• Sun. Apr 21st, 2024

रोजगार दिवस पर CM शिवराज का ‘आत्मनिर्भर’ तोहफा, युवाओ को 6 हजार करोड़ का रोजगार लोन

Byadmin

Aug 27, 2022

भोपाल

रोजगार मांगने वाले नहीं, रोजगार देने वाले बनो। इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए रोजगार दिवस पर प्रदेश के 9.5 लाख युवाओं को 6 हजार करोड़ का लोन स्वरोजगार स्थापित करने के लिए स्वीकृत किया गया। रोजगार दिवस पर राज्यभर में आयोजित कार्यक्रमों में युवाओं को लोन स्वीकृति के सर्टिफिकेट दिए गए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में शामिल हुए। कार्यक्रम में उन्होंने कुछ हितग्राहियों से बातचीत भी की।

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कहा कि प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिले और वे आत्मनिर्भर बने इसमें राज्य सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी। आज प्रदेशव्यापी रोजगार दिवस के मौके पर प्रदेश के 9.52 लाख युवाओं को स्वरोजगार के लिए 6 हजार 81 करोड़ रुपए के ऋण स्वीकृति और वितरित समारोह में उन्होंने यह बात कही।  प्रदेश के अन्य  जिला मुख्यालयों में भी आज जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किए गए।
इंदौर में गुरु अमरदास हॉल, माणिक बाग में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री ने प्रतीक स्वरुप कुछ युवाओं को  लाभ के प्रमाणपत्र का वितरण भी किया। इस कार्यक्रम के माध्यम से इंदौर जिले के 75 हजार से अधिक हितग्राहियों को 466 करोड़ रुपए की मदद दी जाएगी।  इस मौके पर ट्वाय क्लस्टर के विकास कार्यो का शिलान्यास भी किया गया।

सीएम ने 4 जिलों के हितग्राहियों से की बात
मुख्यमंत्री ने मंडला, शाजापुर, अनूपपुर और डिंडौरी जिले के एक-एक हितग्राही से वर्चुअल संवाद भी किया। समारोह की अध्यक्षता सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सक्लेचा ने की। इंदौर जिले के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा, मंत्री तुलसीराम सिलावट, मंत्री उषा ठाकुर, सांसद शंकर लालवानी, कविता पाटीदार, आईडीए अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा, महापौर पुष्यमित्र भार्गव, अनुसूचित जनजाति वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष सावन सोनकर, जिला पंचायत अध्यक्ष रीना मालवीय, विधायक रमेश मेंदोला, आकाश विजयवर्गीय, महेन्द्र हार्डिया, मालिनी गौड़, जीतू पटवारी, विशाल पटेल, गौरव रणविदे और राजेश सोनकर भी इस मौके पर मौजूद रहे।

टॉय क्लस्टर का शिलान्यास

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विभागके अंतर्गत औद्योगिक क्षेत्र रींगवासा-राऊ इंदौर स्थित 3.565 हेक्टेयर भूमि पर टॉय क्लस्टर की स्थापना की जा रही है। यहां लेदर, प्लास्टिक, वुडन, सॉफ्ट क्लस्टर में फोम एवं एजुकेशनल ट्वायस का निर्माण भी किया जाएगा। लघु श्रेणी की बीस इकाईयों की स्थापना भी यहां की जाएगी। जिनमें प्रथम चरण में लगभग 78.87 करोड़ रुपए का निवेश होगा तथा दो हजार 108  व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा। क्लस्टर के अंतर्गत्  पहुंचमार्ग, आरसी नाली, जलप्रदाय पाईप लाइन एवं बाह्य विद्युतीकरण कार्य हेतु जून माह में 283. 39 लाख रनुपए की प्रशासकीय मंजूरी  और 110 लाख रुपए की वित्तीय स्वीकृति भी जारी की जा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *