• Thu. Sep 21st, 2023

घरों में रक्षा कवच बनी गंबूसिया मछली, डेंगू का खतरा कर रही कम, यहां से मिलेगी फ्री

Byadmin

Aug 29, 2022

चंडीगढ़
कोरोना संक्रमण खत्म नहीं हुआ कि अब बरसाती सीजन में डेंगू कहर बनपाने लगा है। डेंगू के केस रोजाना बड़ी संख्या में आ रहे हैं। इससे निपटने के लिए किए जा रही तैयारियां भी कम पड़ रही हैं। अब प्रशासन के एनिमल हसबेंडरी एंड फिशरीज डिपार्टमेंट ने डेंगू के लार्वा से मच्छर बनने की प्रक्रिया को तोड़ने का एक्शन प्लान तैयार कर इसे लागू कर दिया है।

मच्छर तैयार न हो इसके लिए लार्वा को खत्म किया जाएगा। गंबूसिया मछली को ऐसे सभी स्थानों पर छोड़ा जाएगा जहां पानी जमा है। अगर इस पानी में डेंगू का लार्वा रहता है तो गंबूसिया इसे खाकर खत्म कर देगी। प्रशासन यह मछली लोगों को भी निशुल्क देगा। अगर उनके घरों के आसपास कहीं पानी जमा है तो वहां यह मछली छोड़ने के लिए वह ले सकते हैं। सुखना लेक के रेगुलेटरी एंड पर बने फिश फार्म में यह मछली बड़ी संख्या में तैयार की गई है। आम लोगों को भी यह मछली बिना किसी खर्च के उपलब्ध कराई जा रही है।

दूसरे राज्यों को भी होगी सप्लाई
चंडीगढ़ का फिश फार्म नार्थ इंडिया का बड़ा फार्म है। यहां गंबूसिया की प्रोडक्शन बड़े स्तर पर होती है। चंडीगढ़ अपनी जरूरत पूरी करने के साथ ही दूसरे राज्यों को भी उनकी जरूरत अनुसार इसे उपलब्ध कराएगा। प्रशासन हर वर्ष इस मछली का प्रोडक्शन बड़े स्तर पर करता है। इस बार भी इसे दूसरे राज्यों को दिया जाएगा।

डेंगू के बढ़ रहे केस
डेंगू के केस बड़ी संख्या में बढ़ रहे हैं। चंडीगढ़ में इनकी संख्या 40 से अधिक हो गई है। वहीं ट्राइसिटी में तो संख्या 100 से भी अधिक है। अस्पतालों में ऐसे मरीजों की भीड़ लगने लगी है। तेज बुखार के साथ ठंड लगने, बाडी में दर्द की शिकायत लेकर मरीज अस्पताल पहुंच रहे हैं। टेस्ट करने पर उनमें डेंगू की पुष्टि हो रही है।

फागिंग और चालान पर जोर
डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रशासन ने सख्ती करनी शुरू कर दी है। अब मच्छरों को खत्म करने के लिए फागिंग की जा रही है। किसी के यहां डेंगू का लार्वा मिलता है तो उन्हें नोटिस देने के साथ चालान भी हो रहे हैं। लोगों से कूलर का पानी निकालने के साथ कहीं पानी जमा नहीं होने देने की अपील की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *