• Thu. Apr 25th, 2024

पायलट और भाजपा ने महिला उत्पीड़न के मामले में सरकार पर निशाना साधा

Byadmin

Aug 31, 2022

जयपुर
महिला उत्पीड़न और दुष्कर्म के मामले में राजस्थान के देश में पहले नंबर होने पर भाजपा और अन्य विपक्षी दलों के साथ ही कांग्रेस के नेताओं ने भी अपनी ही सरकार को घेरा है। राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने एक दिन पहले साल,2021 में देश में हुए अपराध के आंकड़े जारी किए । इनमें छोटी बच्चियों और महिलाओं से दुष्कर्म के मामले में राजस्थान पहले नंबर पर है। साइबर अपराध में दसवें नंबर पर है। प्रदेश में दुष्कर्म के 6,377 और छेड़छाड़ के 7,945 मामले दर्ज हुए हैं।

पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बुधवार को जयपुर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि अपराध बढ़ना चिंताजनक है। दलित, आदिवासी, महिलाओं के खिलाफ अपराध की घटनाएं बढ़ना चिंताजनक है।प्रदेश में अनुसूचित जाति आयोग को सैंवधानिक दर्ज दिया जाना चाहिए । पूरी सरकार को मिलकर काम करना चाहिए कि अपराध पर कैसे नियंत्रण किया जा सके। उन्होंने कहा कि केवल कानून बना देने से अत्याचार करने वालों में डर नहीं बैठेगा, हमें उनके खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ेगी। उधर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि राजस्थान में महिलाओं और दलितों पर अत्याचार लगातार बढ़ रहे हैं। महिला उत्पीड़न के मामले में राजस्थान का देश में नंबर एक पर होना शर्मनाक बात है।

महिला उत्पीड़न और दुष्कर्म के मामले में राजस्थान के देश में पहले नंबर होने पर भाजपा और अन्य विपक्षी दलों के साथ ही कांग्रेस के नेताओं ने भी अपनी ही सरकार को घेरा है। राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) ने एक दिन पहले साल, 2021 में देश में हुए अपराध के आंकड़े जारी किए । अशोक गहलोत सरकार कानून व्यवस्था संभालने में नाकाम साबित हो रही है। भाजपा विधायक दल के उप नेता राजेंद्र राठौड़ ने एक बयान में कहा कि महिलाओं को सुरक्षा देने में गहलोत सरकार विफल हो रही है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के अध्यक्ष हनुमान बेनीवाल ने कहा कि गहलोत सरकार के पौने चार साल के कार्यकाल में दलित, महिला सहित अन्य कोई भी वर्ग सुरक्षित नहीं है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *