• Sat. May 18th, 2024

टि्वन टावर की जमीन पर ग्रीन पार्क और मंदिर बनाने की योजना

नोएडा
 सुप्रीम कोर्ट तक बिल्डर से कानूनी लड़ाई लड़कर टि्वन टावर जमींदोज करवाने वाली सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट सोसायटी की आरडब्ल्यूए ने नया ऐलान किया है। आरडब्ल्यूए अध्यक्ष उदयभान सिंह तेवतिया ने कहा है कि आरडब्ल्यूए और सोसायटी के निवासी खाली हुई जमीन पर किसी निर्माण के लिए बिल्डर को सहमति नहीं देंगे। उन्होंने बताया कि टि्वन टावर की जमीन पर एक छोटा ग्रीन पार्क, छोटे बच्चों के खेलने का मैदान और एक मंदिर बनाने की योजना है। इसके लिए जल्द ही बैठक कर पूरी सोसायटी के निवासियों की सहमति ली जाएगी।

गौरतलब है कि सेक्टर 93ए में टि्वन टावर करीब 7500 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में बने हुए थे। अथॉरिटी अधिकारियों के मुताबिक, यह जमीन बिल्डर ने अभी सोसायटी को हैंडओवर नहीं की थी। इस पर मालिकाना हक अभी बिल्डर का है, लेकिन बिल्डर अगर कोई निर्माण करवाना चाहेगा तो उसकी सहमति पूरी सोसायटी के दो तिहाई निवासियों से लेनी होगी।

आरडब्ल्यूए अध्यक्ष ने कहा कि बिल्डर के खिलाफ और मुद्दों पर सोयायटी निवासियों की लड़ाई और आगे बढ़ाई जाएगी। आगे के मुद्दे क्या होंगे इस सवाल पर यूबीएस तेवतिया ने बताया कि सोसायटी का करीब 5 करोड़ रुपये इंट्रेस्ट फ्री मेंटेनेंस सिक्यॉरिटी (आईएफएमएस) फंड बिल्डर ने वापस नहीं किया है।

इसके साथ ही, यह जानकारी मिली है कि टि्वन टावर निर्माण के लिए करीब 25 करोड़ रुपये से फ्लोर एरिया रेशियो (एफएआर) बिल्डर ने नोएडा अथॉरिटी से खरीदा था। अब टि्वन टावर ढह गए हैं इसलिए एफएआर का उपयोग ही नहीं हुआ है। अब आरडब्ल्यूए की मांग यह है कि आईएफएमएस फंड का पैसा बिल्डर से वापस दिलवाया जाए।

इसके साथ ही एफएआर को नोएडा अथॉरिटी में जमा हुए 25 करोड़ रुपये वापस सोसायटी को दिलवाए जाएं। इस रकम से सोसायटी की मजबूती और ग्रीनबेल्ट के काम आरडब्ल्यूए करवाएगी। इन मांगों को लेकर आरडब्ल्यूए सीएम योगी आदित्यनाथ के पास जाएगी। तेवतिया ने बताया कि उनको व सोसायटी के निवासियों को उम्मीद है कि सीएम इन मांगों को पूरी करवाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *