• Sun. Apr 21st, 2024

भारतीय मूल की मनु अस्थाना और मधु बेरीवाल को राष्ट्रपति बाइडन ने दी अहम जिम्मेदारी

Byadmin

Sep 1, 2022

वाशिंगटन
भारतीय मूल की दो अमेरिकी महिलाओं को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन की नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर एडवाइजरी काउंसिल (NIAC) में नियुक्त किया जाएगा। अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारतीय-अमेरिकी मनु अस्थाना (Manu Asthana) और मधु बेरीवाल (Madhu Beriwal) की नियुक्ति की इच्छा जाहिर की है। दरअसल, एनआईएसी ने व्हाइट हाउस को सलाह दी थी कि कैसे भौतिक और साइबर खतरों को कम करने और देश के महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा क्षेत्रों की सुरक्षा में सुधार को लेकर सलाह दी थी।

एनआईसी ने बुधवार बैंकिंग और वित्त, परिवहन, ऊर्जा, जल, बांध, रक्षा, संचार, सूचना प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य सेवा, खाद्य और कृषि, सरकार सहित कई क्षेत्रों में गहरे अनुभव वाले वरिष्ठ अधिकारियों के नाम का एलान किया। इसमें सुविधाएं, आपातकालीन सेवाएं और उच्च शिक्षा भी शामिल हैं।

मनु अस्थाना के बारे में जानिए
मनु अस्थाना उत्तरी अमेरिका में सबसे बड़े पावर ग्रिड और दुनिया में सबसे बड़े बिजली के बाजारों में से एक के सीईओ और पीजेएम के अध्यक्ष के तौर पर देखरेख करते हैं। व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी कर कहा, 'उनके नेतृत्व में पीजेएम ने विश्वसनीय विद्युत सेवा को बनाए रखते हुए कई ऊंचाइया छूई हैं।

अस्थाना को ऊर्जा उद्योग के बिजली उत्पादन संचालन, अनुकूलन और प्रेषण, प्रतिस्पर्धा खुदरा बिजली, बिजली और प्राकृतिक गैस खरीद और जोखिम प्रबंधन में व्यापक नेतृत्व का अनुभव है। व्हाइट हाउस ने बताया कि अस्थाना इलेक्ट्रिसिटी सब सेक्टर कोऑर्डिनेटिंग काउंसिल के सदस्य हैं। अस्थाना टेक्सास चिल्ड्रन अस्पताल के बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज में काम भी करते हैं।

कौन हैं मधु बेरीवाल?
मधु बेरीवाल ने 1985 में इनोवेटिव इमरजेंसी मैनेजमेंट (आईईएम) की स्थापना की थी। मधु आईईएम की सीईओ और अध्यक्ष भी हैं। आईईएम अमेरिका में सबसे बड़ी महिला नेतृत्व वाली मातृभूमि सुरक्षा और आपातकालीन प्रबंधन फर्म है। व्हाइट हाउस ने कहा कि बेरीवाल के नेतृत्व में आईईएम ने अमेरिका भर में कुछ सबसे बड़े शमन और लचीलापन प्रयासों का नेतृत्व किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *