• Sat. Feb 24th, 2024

कांग्रेस पार्टी में मची उथल-पुथल 5 हजार कार्यकर्ताओं के पार्टी छोड़ने की संभावना

श्रीनगर
गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस पार्टी के सभी पदों और सदस्यता से इस्तीफे के बाद पार्टी में बड़ी उथल-पुथल मच सकती है। यह बताया जा रहा है कि देश भर में 5,000 से अधिक कांग्रेस कार्यकर्ता आजाद के समर्थन में पार्टी से इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं, जो कांग्रेस से जल्दबाजी में बाहर निकलने के बाद जम्मू-कश्मीर में अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने की प्रक्रिया में हैं। समाचार रिपोर्टों के अनुसार जम्मू-कश्मीर और कई अन्य राज्यों के हजारों कांग्रेस कार्यकर्ता ही पार्टी से अपना इस्तीफा सौंपने के लिए तैयार हैं।

सबसे अधिक संभावना गुलाम नबी आजाद को समर्थन के प्रदर्शन में है। यह समाचार गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले आया है, जिससे कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। जम्मू और कश्मीर के चुनाव भी 2023 में होने वाले हैं, और गुलाम नबी आजाद के बाहर निकलने के साथ पार्टी खुद को मुश्किल स्थिति में पा सकती है। कांग्रेस पार्टी में यह एकमात्र उथल-पुथल नहीं है, क्योंकि पार्टी के वरिष्ठ नेता भूपिंदर सिंह हुड्डा की आजाद के साथ हालिया मुलाकात ने हरियाणा कांग्रेस में एक विवाद खड़ा कर दिया था।

आजाद के साथ हुड्डा की मुलाकात विवादास्पद हो गई क्योंकि बाद में पार्टी ने राहुल गांधी और उनके नेतृत्व की खुले तौर पर आलोचना करते हुए उन्हें "बचकाना" और "अपरिपक्व" कहा। आनंद शर्मा, भूपिंदर सिंह हुड्डा और पृथ्वीराज चव्हाण कुछ ऐसे कांग्रेसी नेता थे, जिन्होंने बुधवार को गुलाम नबी आजाद से मुलाकात की, जिससे पार्टी के अन्य नेताओं ने पार्टी और गांधी परिवार के प्रति उनकी वफादारी पर सवाल उठाए। कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा ने कहा है कि हुड्डा का यह कदम पार्टी के रैंक और फाइल को भ्रमित और निराश करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *