• Sat. Jun 22nd, 2024

बस्तर संभाग के 589 गांव नक्सल मुक्त हुए, 257 बंद स्कूल पुन: प्रारंभ हुए – सुंदरराज पी

Byadmin

Sep 3, 2022

जगदलपुर
बस्तर आईजी सुंदरराज पी. ने बताया कि विश्वास, विकास, सुरक्षा की त्रिवेणी योजना बस्तरवासियों के लिए कारगर साबित हो रही है। कैंप की स्थापना से पुलिस के जवान नक्सलियों को खदेडने में सफल रहे है, नक्सल प्रभावित 2710 गांव में 589 ग्राम को नक्सलियों से मुक्त करा लिया गया है। नक्सलियों के आंतक के कारण बंद पड़े 257 स्कूलों को पुन: प्रारंभ करा दिया गया है।

उन्होने बताया कि बस्तर अंचल के 994 ग्राम पंचायतों के अंतर्गत आने वाले 2710 गांव में नक्सलियों का हस्तक्षेप होता था। उनमें से 589 गांव को नक्सलियों से मुक्त करा दिया गया है। इन गांव में शासन की योजनाओं का लाभ ग्रामीणों तक पंहुचने लगा है। बस्तर आईजी ने बताया कि सुरक्षा कैंपों के माध्यम से आरआरपी योजना के तहत बस्तर अंचल में स्वीकृत 51 सड़कों में से 16 सौ किमी सड़कों का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। वहीं शेष बचे सड़क निर्माण का कार्य भी सुरक्षबलों की मदद से कराया जायेगा। प्रति वर्ष औसतन 15 बेस कैंप प्रारंभ किये जाकर नक्सल उन्मूलन अभियान को गति प्रदान की जा रही है। नक्सल आतंक के कारण बस्तर संभाग अंतर्गत कुल 363 स्कूल बंद थे जिनमें से 257 स्कूलों को पुन: प्रारंभ किये गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *