• Thu. Apr 25th, 2024

श्रमोदय विद्यालयों को मॉडल के तौर पर तैयार करें, मैं भी देखने जाऊँगा : मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में श्रमोदय विद्यालयों को मॉडल के तौर पर तैयार करें। इन विद्यालयों की व्यवस्थाओं को देखने मैं भी जाऊँगा। भवन संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के सभी पात्र निर्माण श्रमिकों के आयुष्मान कार्ड अभियान चला कर बनाए जाना सुनिश्चित करें। संबल योजना के पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करें।

मुख्यमंत्री चौहान आज मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में श्रम विभाग की समीक्षा कर रहे थे। खनिज साधन एवं श्रम मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव वित्त मनोज गोविल सहित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि हर जनजाति पंचायत में इंजीनियर तैयार करें। लेबर केस मैनेजमेंट सिस्टम प्रारंभ करने के लिए निर्धारित समय- सीमा के कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। विभाग में रिक्त पदों की पूर्ति के लिए भर्ती की कार्यवाही तेजी से करें।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मेरे द्वारा की गई घोषणाओं को शीघ्रता से पूरा किया जाए। विभाग की 33 सेवाएँ लोक सेवाओं के प्रदाय की गारंटी अधिनियम में शामिल हैं, इनका लाभ बिना किसी असुविधा के श्रमिकों को दिया जाए। असंगठित श्रमिकों के डाटा बेस को ई- श्रम पोर्टल पर दर्ज किया जाए।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि विभाग कर्मकार मंडल के अंतर्गत प्राप्त होने वाले उपकर के क्षेत्र विस्तार की संभावनाओं का परीक्षण करे। उन्होंने कहा कि विभाग में संचालित आईटीआई को आदर्श आईटीआई बनाया जाए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *