• Sun. Apr 21st, 2024

दक्षिण कोरिया: अफ्रीकी स्वाइन बुखार के नए मामले आए सामने, 7,000 सूअरों की होगी हत्या

Byadmin

Sep 19, 2022

सियोल
दक्षिण कोरिया अफ्रीकी स्वाइन बुखार (African swine fever) के प्रसार को रोकने के लिए 7,000 सूअरों का वध करेगा। कृषि मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी है। कृषि, खाद्य और ग्रामीण मामलों के मंत्रालय ने कहा कि, सोल से 85 किलोमीटर उत्तर पूर्व में चुंचियन में एक सुअर से बाड़े में जानवरों की बीमारी फैल गई। कुल 7,000 सूअरों को मारा जाएगा। योनहाप समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, सरकार ने मंगलवार दोपहर 2 बजे तक गंगवोन प्रांत में सुअर फार्म और संबंधित सुविधाओं पर 24 घंटे का ठहराव आदेश जारी किया और 43 आस-पास के फार्म का गहन निरीक्षण करने की योजना बनाई। मंत्रालय ने कहा कि, प्रांत में लगभग 200 सुअर फार्मों पर नैदानिक परीक्षण करने की भी योजना है।

यह इस साल इस तरह का तीसरा मामला है। पिछला मामला अगस्त में पूर्वी काउंटी यांगगू में हुआ था। प्रधान मंत्री हान डक-सू ने अधिकारियों को वायरस के प्रसार को रोकने के लिए स्थानीय सरकारों के साथ निकट सहयोग करने का निर्देश दिया। अफ्रीकी सूअर बुखार मनुष्यों को प्रभावित नहीं करता है लेकिन सूअरों के लिए घातक है। बता दें कि, वर्तमान में इस बीमारी का कोई टीका या इलाज नहीं है। मंत्रालय ने कहा कि, एएसएफ की मौजूदा स्थिति से देश में पोर्क की आपूर्ति प्रभावित होने की संभावना नहीं है।

हाल के वर्षों में, अफ्रीकी सूअर बुखार (African swine fever) सुअर आबादी में बड़े पैमाने पर नुकसान और सूअर का मांस उद्योग के लिए भारी आर्थिक परिणामों के लिए जिम्मेदार रहा है। दुनिया भर में पशु स्वास्थ्य और कल्याण को प्रभावित करने के अलावा, यह रोग जैव विविधता और किसानों की आजीविका पर भी नकारात्मक प्रभाव डालता है। इस बीमारी के लिए कोई प्रभावी टीका अबतक नहीं है। अपने भागीदारों, उद्योग और विशेषज्ञों के माध्यम से, विश्व पशु स्वास्थ्य संगठन (WOAH) इस विनाशकारी बीमारी को रोकने और नियंत्रित करने के प्रयासों में देशों का समर्थन करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *